Uttar Pradesh Majdur Bhatta Yojana: पंजीकरण, मजदूर भत्ता योजना ऑनलाइन आवेदन फॉर्म

Majdur Bhatta Yojana : श्रमिक भरण पोषण योजना उत्तर प्रदेश – इस योजना की शुरुआत माननीय मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ जी ने की है। इस योजना का उद्देश्य गरीब मजदूर श्रमिकों को भरण पोषण के लिए महीने के 1000 रूपये दिए जायेंगे। इस योजना के अंतर्गत 15 लाख मजदूरों को लाभ दिया जायेगा। कोरोना वायरस के चलते मजदूर भत्ता योजना की शुरुआत की गयी है। और साथ ही जो रिक्शा चलाते है, रेहड़ी वाले, फेरी वाले आदि को इस योजना का लाभ दिया जायेगा। क्योंकि कोरोना वायरस के चलते गरीब मजदूरों के पास आय के साधन समाप्त हो चुके है और इसी समस्या को देखते हुए यूपी सरकार ने मजदूरों को आर्थिक सुविधा देने का एलान किया और Shramik Bharan Poshan Yojana UP की शुरुआत की है। आप हम आपको मजदूर भत्ता से जुडी और भी जानकारी साझा करेंगे। up majdur card up labour card up majdur card registration up majdur card download up majdur card list

श्रमिक भरण पोषण योजना उत्तर प्रदेश

मुख्यमंत्री जी ने अपने घोषणा पत्र में कहा की उत्तर प्रदेश के श्रम विभाग में पहले से ही 15 लाख तक दिहाड़ी मजदुरी करने वाले व्यक्ति पंजीकृत है। इन मजदूरों को सरकार हर माह 1000 रूपये उनके खाते में ट्रांसफर करेगी। हर एक परिवार को 1000 रूपये की आर्थिक सहायता दी जाएगी। इस योजना में आवेदन करने के लिए ऑफलाइन और ऑनलाइन दोनों मोड़ में आवेदन कर सकते है। इस योजना को लांच 21 मार्च 2020 को की गयी थी। अगस्त 2021 तक इस योजना में लगभग 230 करोड़ की धनराशि खर्च की जा चुकी है। आज हम अपने लेख के माध्यम से बताएंगे की किस प्रकार आप घर बैठे मजदुर भत्ता योजना ऑनलाइन फॉर्म के माध्यम से आवेदन कर सकते है। जानने के लिए आर्टिकल को अंत तक पढ़े।

उत्तर प्रदेश श्रमिक भरण पोषण योजना पंजीकरण

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री आदित्यनाथ योगी जी के द्वारा उत्तर प्रदेश श्रमिक भरण पोषण योजना/मजदूर भत्ता योजना की शुरुआत की गयी है। इस योजना का लाभ राज्य के वे सभी श्रमिक उठा सकते है जो श्रम विभाग के अंतर्गत पंजीकृत है। मजदूर भत्ता योजना के तहत लाभार्थी श्रमिकों को हर महीने 1000 रूपये आर्थिक मदद हेतु प्रदान किये जाएंगे। लाभ की राशि सीधे लाभार्थी के बैंक खाते के माध्यम से दी जाएगी। Shramik Bharan Poshan Yojana 2022 का लाभ पाने के लिए पंजीकृत श्रमिकों को योजना हेतु आवेदन करना होगा। आवेदन ऑफलाइन और ऑनलाइन दोनों माध्यम से किया जा सकता है। ऑनलाइन आवेदन करने के लिए आपको कहीं जाने की आवश्यकता नहीं है आप आधिकारिक वेबसाइट पर जाकर योजना का पंजीकरण फॉर्म भर सकते है।

Uttar Pradesh Majdur Bhatta Yojana 2022

यूपी मजदूर भत्ता योजना के अंतर्गत उन सभी श्रमिक नागरिकों को सहायता प्रदान की जाएगी जो दैनिक रूप में मजदूरी का कार्य करते है। इस योजना के अंतर्गत प्रदेश सरकार के द्वारा मजदूर श्रेणी के नागरिकों के लिए 8 करोड़ 17 लाख 55 हजार रूपए की धनराशि का बजट निर्धारित किया गया है। जिसके तहत यूपी सरकार के द्वारा UP Shramik Bharan Poshan Yojana के अंतर्गत अभी तक कुल 11 लाख से अधिक श्रमिकों को इस योजना के तहत एक-एक हजार रूपए की सहायता प्रदान की गयी है। साथ ही श्रमिक नागरिकों के भरण-पोषण के लिए अंत्योदय योजना के माध्यम से राशन वितरित किया जायेगा। जिससे वह अपने परिवार के लिए इस महामारी के समय में भोजन की व्यवस्था उपलब्ध कर सकते है। इसके साथ श्रम विभाग में पंजीकृत 20 लाख से अधिक मजदुर नागरिकों को 1 हजार रूपए की सहायता प्रदान की जाएगी।

Majdur Bhatta Yojana Online Apply

लॉकडाउन की स्थिति मे राज्य में श्रमिकों को अपना और अपने परिवार का भरण-पोषण करने में कई कठिनाइयों का सामना करना पड़ रहा है. इस परिस्थिति में इनकी सहायता करने के लिए राज्य सरकार द्वारा श्रमिकों को 1000 की आर्थिक सहायता प्रदान की जाएगी. इसके साथ ही राशन की भी व्यवस्था की जाएगी. इस योजना का लाभ राज्य के वह सभी नाविक, रिक्शा व ट्रॉली चालक, ठेला, खोमचा, रेहड़ी लगाने वाले दुकानदार, पल्लेदार, हलवाई, दिहाड़ी मजदूर आवेदन कर लाभ ले सकते है जो पंजीकृत है.

इस योजना के आ जाने से अब मजदूरों को अपना जीवन यापन करने में आसानी होगी, उनके अब भूखे मरने की नौबत नहीं आएगी. वही बता दे की उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा शुरू की गयी यह योजना एक बेहद ही कल्याणकारी योजना है. वही आपकी जानकारी के लिए बता दे की इस योजना के अंतर्गत मिलने वाली राशि को लाभार्थी के सीधे बैंक अकाउंट में पहुंचाया जायेगा. इसके लिए लाभार्थी का बैंक अकाउंट खुद का होना ज़रूरी है. वही बैंक अकाउंट आधार कार्ड से लिंक होना भी आवयश्क है.

इसके साथ ही लाभ देने के अलावा सरकार द्वारा अंत्योदय एवं पात्र गृहस्थी कार्ड धारकों को मुफ्त खाद्यान्न देने की भी घोषणा की गई है. वह सभी कार्ड धारक जिनके पास राशन कार्ड नहीं है वह भी वरीयता से कार्ड बनवा कर राशन प्राप्त कर सकते है.

योगी सरकार द्वारा 1 हजार भरण-पोषण भत्ता प्रति दिहाड़ी मजदूर

जैसे कि हमने आपको ऊपर बताया कि उत्तर प्रदेश सरकार के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ जी ने एक नई योजना की शुरुआत की है। यह योजना दुनिया भर में फैल रहे कोरोनो वायरस से संबंधित है, चूंकि हम सभी जानते हैं कि विकट परिस्थितियों के कारण देशभर में लोकडाउन की स्थिति उत्पन्न होती जा रही है। पिछले दिन ही लखनऊ को संदिग्ध शहर माना जा रहा है, जहां पर बहुत से कोरोनावायरस ग्रसित मरीज पाए जा सकते हैं।

ऐसे में सरकार ने नागरिकों से यह अपील की है कि वह घर से बाहर ना निकले, बहुत ज्यादा जरूरत होने पर ही घर से बाहर निकले। ऐसे में परेशानी उन लोगों के लिए हो जाती हैं जो कि रोज की मजदूरी से अपना घर चलाते हैं। इस तरह के लोगों के लिए उत्तर प्रदेश सरकार ने 1,000 रुपये देने का फैसला किया है ,ताकि वे इन विकट परिस्थितियों में रोजमर्रा का जीवन बिना किसी परेशानी के निकाल सके।

मजदूर भत्ता योजना: डेढ़ करोड़ श्रमिकों के खाते में हस्तांतरित की गई राशि

उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा 3 जनवरी 2022 को राज्य के डेढ़ करोड़ असंगठित क्षेत्र के श्रमिकों को योजना के पहले चरण के अंतर्गत भरण-पोषण भत्ता प्रदान किया जाएगा। यह भत्ता ₹1000 का होगा। प्रत्येक श्रमिक के खाते में ₹1000 की राशि ट्रांसफर की जाएगी। उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा कोरोना वायरस की तीसरी लहर की आशंका को ध्यान में रखते हुए असंगठित क्षेत्र के श्रमिकों को भरण-पोषण भत्ता देने का निर्णय लिया गया है। इस योजना के अंतर्गत ₹2000 की राशि प्रदान की जाती है। यह राशि ₹1000 की 2 किस्तों में प्रदान की जाती है।

इस समय कुल पंजीकृत कर्मकारओं की संख्या 5 करोड़ 90 लाख 8 हजार 745 है। जिसमें से असंगठित कर्मकारओं की संख्या 38160725 है और बीओसीडब्ल्यू बोर्ड के अंतर्गत कुल पंजीकृत कर्मकारओं की संख्या 12748020 है। पहले चरण में इनमें से डेढ़ करोड़ कर्मकारो के खाते में भत्ते की राशि हस्तांतरित की जाएगी। इस योजना का लाभ केवल असंगठित क्षेत्र के श्रमिकों को प्रदान किया जाएगा। इसके अलावा केवल वही श्रमिक इस योजना का लाभ प्राप्त कर सकेंगे जिन्होंने 31 दिसंबर 2021 तक सामाजिक सुरक्षा बोर्ड में पंजीकरण करवा लिया है।

उत्तर प्रदेश श्रमिक भरण पोषण योजना मुख्य तथ्य

योजना का नाम मजदूर भत्ता योजना
इनके द्वारा शुरू की गयी  मुख्यमंत्री योगी आदित्य नाथ जी के द्वारा
लॉन्च की तारीक  21 मार्च
लाभार्थी राज्य के मजदूर परिवार
उद्देश्य  राज्य के मजदूरों को भत्ता प्रदान करना

उत्तर प्रदेश मजदूर भत्ता योजना के लाभार्थी

  • रिक्शा चालक
  • पटरी व्यवसायियों
  • निर्माण श्रमिकों
  • अंत्योदय श्रेणी के लोगों
  • स्ट्रीट वेंडर
  • पल्लेदार
  • सड़क किनारे रेडी खोमचा लगाने वाले
  • रिक्शा और ठेला चालक
  • नाई
  • धोबी
  • दर्जी
  • मोची
  • फल और सब्जी विक्रेता
  • दिहाड़ी मजदूर
  • हलवाई आदि

मजदूर भत्ता योजना: 2.5 करोड़ श्रमिक हो चुके हैं अब तक पंजीकृत

अब तक उत्तर प्रदेश असंगठित कर्मकार सामाजिक सुरक्षा बोर्ड में 2.5 करोड़ श्रमिक पंजीकृत हो चुके हैं। भत्ते की राशि सीधे श्रमिकों के खाते में वितरित की जाएगी। इसके अलावा सभी लाभवंती होने वाले श्रमिकों को अपने खाते को आधार से लिंक करवाना होगा। वह सभी नागरिक जिनको किसान सम्मान निधि या अन्य किसी माध्यम से भरण-पोषण भत्ता प्रदान किया जा रहा है उन्हें कोई भी धनराशि नहीं प्रदान की जाएगी। सरकार द्वारा कोरोना संक्रमण की तीसरी लहर की संभावना को देखते हुए भरण-पोषण भत्ता वितरण के लिए आवश्यक कार्यवाही जल्द पूरी करने के निर्देश भी दिए गए हैं।

23 लाख श्रमिकों को पहुंचाया गया मजदूर भत्ता योजना का लाभ

इस योजना को उत्तर प्रदेश के श्रमिकों को आर्थिक सहायता प्रदान करने के लिए आरंभ किया गया था। उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री श्री योगी आदित्यनाथ जी के द्वारा 9 जून 2021 को 23 लाख श्रमिकों के खाते में इस योजना के अंतर्गत 230 करोड़ रुपए की राशि हस्तांतरित की गई है। यह राशि ऑनलाइन मोड से ट्रांसफर की गई है। इस मौके पर मुख्यमंत्री जी द्वारा कोरोना के खिलाफ लड़ाई में श्रमिकों के योगदान की सराहना की गई है एवं यह भी आश्वासन दिया गया है कि आने वाले समय में किसानों, श्रमिकों, युवाओं, कामगारों आदि के हित की सुरक्षा के लिए सरकार प्रतिबद्धता से काम करेगी।

Uttar Pradesh Majdur Bhatta Yojana के माध्यम से लगभग 23 लाख से ज्यादा कंस्ट्रक्शन कामगारों को ₹1000 की राशि उनके खाते में प्रदान की गई है। इस मौके पर उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री द्वारा असंगठित क्षेत्र के कामगारों के पंजीकरण के लिए भी एक पोर्टल का आरंभ किया गया है। इसके अलावा श्रमिकों के हित के लिए सरकार द्वारा विभिन्न प्रकार की योजनाएं जैसे कि विवाह सहायता योजना, बच्चों के लिए शिक्षा और स्वास्थ्य योजना आदि जैसी योजनाएं संचालित की जा रही है।

मजदूर भत्ता योजना का लाभ

  • इस योजना के अंतर्गत राज्य के गरीब दिहाड़ी मजदूर और निर्माण श्रमिक (रिक्शा वाले, खोमचे वाले, रेहड़ी वाले, फेरी वाले, निर्माण कार्य करने वाले) को यूपी सरकार द्वारा 1000 रूपये की आर्थिक सहायता प्रदान की जाएगी ।
  • इस योजना के अंतर्गत राज्य के 35 लाख मजदूरों को उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा वित्तीय सहायता प्रदान की जाएगी ।
  • योगी आदित्यनाथ ने कहा कि राज्य के बीपीएल परिवारों को 20 किलो गेहूं और 15 किलो चावल सरकार मुफ्त में देगी। पीडीएस केंद्रों से ये लोगों को दिया जाएगा ।
  • यूपी मजदूर भत्ता योजना का लाभ उत्तर प्रदेश के ही मजदूर लोगो को ही प्रदान किया जायेगा ।
  • मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा, ‘हमने प्रदेश में आइसोलेशन वार्ड बनाए हैं। इस वायरस से घबराने की नहीं, चुनौतियों से लड़ने की जरूरत है।’ उन्होंने कहा कि मजदूरों, ठेला लगाने वालों आदि को तत्काल राशन उपलब्ध कराने का फैसला लिया है।
  • Uttar Pradesh Majdur Bhatta Yojana में उन मजदूरो को लिया जा रहा है जो श्रम विभाग, नगर विकास और ग्राम सभाओं में पंजीकृत हैं।
  • इस योजना के तहत दिया जाने वाला लाभ सीधे लाभार्थी के बैंक अकाउंट में सरकार दुआर ट्रांसफर किया जायेगा ।इसलिए आवेदक का बैंक अकॉउंट होना अनिवार्य है और बैंक अकाउंट आधार कार्ड से लिंक होना चाहिए ।

Uttar Pradesh Majdur Bhatta Yojana की पात्रता

श्रम विभाग, नगर विकास और ग्राम सभाओं में पंजीकृत मजदूरों को इस योजना का लाभ मिलेगा ।
आवेदक उत्तर प्रदेश का स्थायी निवासी होना चाहिए ।
अगर आपके पास श्रम विभाग, नगर विकास या ग्राम सभाओं में से किसी का भी कोई पंजीकृत सर्टिफिकेट या दस्तावेज नहीं है तो आपको भी इस योजना का लाभ नहीं मिलेगा। up labour card, up labour card, up labour card, up labour card, up labour card, up labour card, up labour card, up labour card, up majdur card registration, up majdur card registration, up majdur card registration, up majdur card registration, up majdur card registration, up majdur card registration, up majdur card registration, up majdur card download, up majdur card download, up majdur card download., up majdur card download, up majdur card download, up majdur card download, up majdur card download, up labour card, up majdur card list, up majdur card list, up majdur card list, up majdur card list, up majdur card list, up majdur card list, up majdur card list

सारांश!

हमारे द्वारा दी गई जानकारी आप लोगों को पसंद आए हो तो हमारे इस पेज को अपने सभी मित्रों के साथ शेयर अवश्य करें अरे ऐसे ही खबरों को जानने के लिए हमारे साथ इस आर्टिकल से जुड़ जाएं ताकि आपके काम की कोई भी खबर आप से ना छूटे चाहे वह रोजगार से जुड़ी खबर या किसी अन्य योजना से हम सभी खबरों का पल-पल अपडेट आपका कल आएंगे ताकि आप सभी योजनाओं का लाभ सबसे पहले प्राप्त कर सके.

ध्यान दें :- ऐसे ही केंद्र सरकार और राज्य सरकार के द्वारा शुरू की गई नई या पुरानी सरकारी योजनाओं की जानकारी हम सबसे पहले अपने इस वेबसाइट liveyojana.com के माध्यम से देते हैं तो आप हमारे वेबसाइट को फॉलो करना ना भूलें ।

अगर आपको यह आर्टिकल पसंद आया है तो इसे Like और Share जरूर करें ।

इस आर्टिकल को अंत तक पढ़ने के लिए धन्यवाद…!!

Posted By-Govinda Rauniyar

up labour card up majdur card registration

FAQ ABOUT : Uttar Pradesh Majdur Bhatta Yojana?

यूपी लेबर भत्ता से जुडी आधिकारिक वेबसाइट क्या है ?

यूपी लेबर भत्ता से जुडी आधिकारिक वेबसाइट- http://uplabour.gov.in है।

यूपी मजदुर भत्ता योजना के अंतर्गत लाभार्थियों को कितने रूपये की आर्थिक सहायता दी जाएगी ?

यूपी मजदुर भत्ता योजना के अंतर्गत लाभार्थियों को हर महीने 1000 रूपये की आर्थिक सहायता दी जाएगी।

इस योजना के तहत मिलने वाली आर्थिक सहायता कैसे लाभार्थियों तक पहुंचाई जाएगी ?

इस योजना के तहत लाभार्थियों के खाते में हर महीने आर्थिक सहायता पहुंचाई जाएगी इसलिए आपका बैंक में खाता होना अनिवार्य है और साथ ही खाता आधार से लिंक होना भी जरुरी है।

उत्तर प्रदेश भरण-पोषण योजना में किन-किन उम्मीदवारों को लाभ प्राप्त होगा ?

उतर प्रदेश भरण पोषण योजना में दैनिक रूप से जो लोग श्रम करते है उन्हें सरकार की तरफ से आर्थिक मदद दी जाएगी जैसे श्रमिक, रिक्शा चालक, मोची, निर्माण कार्य करने वाले आदि लोगो को इस योजना का लाभ प्राप्त होगा।

UP सरकार ने मजदुर भत्ता योजना की शुरुआत क्यों की ?

कोविड -19 संक्रमण के कारण देश में बहुत से लोग बेरोजगारी के शिकार हो गए जिनमे से सबसे ज्यादा दैनिक रूप से कार्य करने वाले जो अपनी जीविका चलाते थे उनको ज्यादा नुकसान हुआ है इसलिए यूपी सरकार ने इन लोगो को आर्थिक सहायता देने के लिए मजदुर भत्ता योजना की शुरुआत की है।

मजदुर भत्ता योजना का लाभ कौन -कौन ले सकता है ?

मजदुर भत्ता योजना का लाभ जिन उम्मीदवार का नाम श्रम विभाग, ग्राम सभा, नगर विकास में होगा वे पहले से ही पंजीकृत होंगे उन्हें लाभ मिलेगा।

ऑफलाइन मोड़ में आवेदन करने के लिए क्या करे ?

यदि आप ऑफलाइन मोड़ में आवेदन करना चाहते है तो इसके लिए आपको अपने नजदीकी नगर निगम के कार्यालय में जाना होगा। आप वहां से आवेदन फॉर्म लेकर आवेदन कर सकते है।

यूपी लेबर डिपार्टमेंट से जुड़ा हेल्पलाइन नंबर क्या है ?

यदि आपको इस योजना से जुडी कोई भी जानकारी चाहिए या आपको कोई भी समस्या है तो आप नीचे दिए गए हेल्पलाइन नंबर पर सम्पर्क कर सकते है।
हेल्पलाइन नंबर – 0522 – 2238902

Amar Kumar is a graduate of Journalism, Psychology, and English. Passionate about communication - with words spoken and unspoken, written and unwritten - he looks forward to learning and growing at every opportunity. Pursuing a Post-graduate Diploma in Translation Studies, he aims to do his part in saving the 'lost…

This is a new paragraph added to the author box.

Leave a Comment