प्रगतिशील पशुपालक प्रोत्साहन योजना 2023: ऑनलाइन आवेदन, लाभ, पात्रता

Pragatishil Pashupalak Protsahan Yojana online :- उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा राज्य के किसानो एवं पशुपालको की आर्थिक स्थिति में सुधार करने हेतु तथा राज्य में स्वदेशी नस्ल की  गायों को पालने के लिए प्रगतिशील पशुपालक प्रोत्साहन योजना का शुभारम्भ किया गया है। इस योजना के माध्यम से उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा  किसानो एवं पशुपालको स्वदेशी नस्ल की गाय पालने के लिए आर्थिक सहायता प्रदान की जाएगी। यह आर्थिक सहायता किसानो एवं पशुपालको को अधिकतम 2 स्वदेशी नस्ल की गायों को खरीदने पर दी जाएगी। यदि आप उत्तर प्रदेश के किसान एवं पशुपालक है। और Pragatishil Pashupalak Protsahan Yojana के तहत आवेदन कर लाभ पत्राप्त करना चाहते है। तो आज हम आपको प्रगतिशील पशुपालक प्रोत्साहन योजना से सम्बंधित सभी महत्पूर्ण जानकारी प्रदान करेंगे। जैसे – इसके benefits ,इसका उद्देश्य ,documents आवेदन प्रिक्रिया तथा आपकी क्या पात्रता होनी चाहिए। इन सभी के बारे में बतायेगे तो सम्पूर्ण जानकारी प्राप्त करने के लिए हमारे आर्टिकल पर अंत तक बने रहे।

Pragatishil Pashupalak Protsahan ,online ,benefits ,documents ,yojana ,Pragatishil Pashupalak Protsahan benefits 2023

Pragatishil Pashupalak Protsahan Yojana 2023 

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री श्री योगी आदित्यनाथ जी ने राज्य के किसानों और पशुपालकों के लिए 24 जून 2023 को “प्रगतिशील पशुपालक प्रोत्साहन योजना” की शुरुआत की है। इस योजना के तहत ‌उत्तर प्रदेश का कोई भी गोपालक अगर दूसरे राज्य से उन्नत नस्ल की स्वदेशी गाय पालने के लिए लेकर आता है तो उसे राज्य सरकार द्वारा 10,000 से लेकर 15,000 तक की आर्थिक सहायता प्रदान की जाएगी। यह आर्थिक सहायता राशि सरकार के द्वारा गौ पालकों को अधिकतम दो स्वदेशी नस्ल की गायों को खरीदने पर प्रदान की जाएगी। इस योजना के अंतर्गत दी जाने वाली आर्थिक सहायता राशि राज्य सरकार के द्वारा आवेदक के बैंक खाते में डेबिट के माध्यम से भेजी जाएगी। “प्रगतिशील पशुपालक प्रोत्साहन योजना” के द्वारा डेयरी किसान और गोपालकों की आय में वृद्धि होगी। जिससे वे आत्मनिर्भर और सशक्त बन सकेंगे और साथ ही राज्य में दूध उत्पादन को बढ़ावा मिलेगा।

प्रगतिशील पशुपालक प्रोत्साहन योजना के बारे में जानकारी

योजना का नाम Pragatishil Pashupalak Protsahan Yojana
आरम्भ की गई मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ जी के द्वारा 
कब शुरू हुई  24 जून 2023 को
लाभार्थी  राज्य के पशुपालक
उद्देश्य  पशुपालकों को गाय पालने के लिए आर्थिक सहायता प्रदान करना
गायों के पालने पर प्रोत्साहन राशि 10,000 से 15,000 रुपए 
राज्य  उत्तर प्रदेश
साल  2023
आवेदन प्रक्रिया  ऑनलाइन/ऑफलाइन
आधिकारिक वेबसाइट  जल्द लांच की जाएगी

Pragatishil Pashupalak Protsahan Yojana का उद्देश्य 

Pragatisheel Pashupalak Protsahan Yojana का मुख्य उद्देश्य राज्य में स्वदेशी नस्ल गायो के महत्व को बढ़ावा देना है। साथ ही गोपालको की ‌आय में बढ़ोतरी करना है। Pragatisheel Pashupalak Protsahan Yojana के माध्यम से राज्य के पशु पालन करने वाले किसानों और गोपालको को दूसरे राज्य से स्वदेशी गाय लेने पर प्रोत्साहन राशि दी जाएगी। जिससे उनकी आय में तो बढ़ोतरी होगी और राज्य में दुग्ध उत्पादन को भी बढ़ावा मिलेगा।

प्रगतिशील पशुपालक प्रोत्साहन योजना के तहत दी जाने वाली प्रोत्साहन राशि का विवरण

गाय की नस्ल प्रतिदिन दूध प्रोत्साहन राशि    प्रतिदिन दूध प्रोत्साहन राशि 
साहिवाल, गीर, गाय, थारपारकर 8 से 12 लीटर 10 हजार रुपए 12 लीटर से अधिक  15 हजार रुपए
हरियाणा प्रजाति की गाय 6 से 10 लीटर 10 हजार रुपए 10 लीटर से अधिक  15 हजार रुपए
गंगातीरी प्रजाति 6 से 8 लीटर 10 हजार रुपए 8 लीटर से अधिक  15 हजार रुपए

Pragatishil Pashupalak Protsahan Yojana के लाभ 

  • उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री श्री योगी आदित्यनाथ जी ने राज्य के किसानों और पशुपालकों के लिए  24 जून 2023 को प्रगतिशील पशुपालक प्रोत्साहन योजना की शुरुआत की है। 
  • उत्तर प्रदेश का कोई भी गोपालक अगर दूसरे राज्य से उन्नत नस्ल की स्वदेशी गाय पालने के लिए लेकर आता है तो‌ उसे राज्य सरकार द्वारा 10000 से लेकर 15000 तक की आर्थिक सहायता प्रदान की जाएगी।
  • यह प्रोत्साहन राशि 2 देसी नस्ल की गाय खरीद पर प्रदान की जाएगी।
  • इस योजना के अंतर्गत दी जाने वाली आर्थिक सहायता राशि राज्य सरकार के द्वारा आवेदक के बैंक अकाउंट में डीबीटी के माध्यम से भेजी जाएगी। Pragatishil Pashupalak Protsahan benefits Pragatishil Pashupalak Protsahan documents Pragatishil Pashupalak Protsahan documents
  • इस योजना के तहत किसान और गोपालको की आय में वृद्धि होगी।
  • यह योजना राज्य के अन्य लोगों को गाय पालने के लिए प्रोत्साsहित करेंगी।
  • यह योजना पूरे राज्य में चलायी जाएगी।
  • जिससे वह आत्मनिर्भर एवं सशक्त बन सकेंगे और साथ ही राज्य में दुग्ध उत्पादन को बढ़ावा मिलेगा।

प्रगतिशील पशुपालक प्रोत्साहन योजना के लिए पात्रता

  • आवेदक को उत्तर प्रदेश का मूल निवासी होना ज़रूरी है।
  • इस योजना का लाभ केवल राज्य के पशुपालक ही प्राप्त करने के लिए पात्र होंगे।
  • इस योजना के तहत राज्य के किसान भी आवेदन करने हेतु पात्र होंगे।
  • अगर पशुपालक पंजाब, हरियाणा, राजस्थान, गुजरात और गंगातीरी प्रजाति की गाय लेते हैं। तब भी वह इस योजना के लिए पात्र माने जाएंगे। Pragatishil Pashupalak Protsahan online Pragatishil Pashupalak Protsahan online Pragatishil Pashupalak Protsahan benefits

Pashupalak Protsahan Yojana के लिए ज़रूरी दस्तावेज

  • आधार कार्ड
  • निवास प्रमाण पत्र
  • गाय खरीदने का पुख्ता सबूत
  • प्रतिदिन दूध उत्पादन का प्रमाण
  • मोबाइल नंबर
  • पासपोर्ट साइज फोटो
  • बैंक खाता विवरण

प्रगतिशील पशुपालक प्रोत्साहन योजना 2023 के तहत आवेदन कैसे करें

राज्य के जो इच्छुक नागरिक Pragatishil Pashupalak Protsahan Yojana का लाभ प्राप्त करने के लिए आवेदन करना चाहते है उनकी जानकरी के लिए सूचित करदे आपको अभी कुछ समय प्रतीक्षा करनी है राज्य सरकार द्वारा इस योजना को शुरू करने का एलान किया है जैसे ही इस योजना के अंतर्गत आवेदन से सम्बन्धी जानकारी को सावर्जनिक किया जाएगा। तो हम आपको अपने इस लेख के माध्यम से अगवत करेंगे। इसलिए आपसे निवेदन है कृप्या इस लेख के साथ अवश्य जुड़े रहे।

FAQ’S Pragatishil Pashupalak Protsahan Yojana

प्रगतिशील पशुपालक प्रोत्साहन योजना का लाभ कैसे करे ?

भारत के किसानों एवं पशुपालकों को उन्नत नस्ल एवं उच्च उत्पादकता वाली देसी गायों को पालने हेतू 10 हजार से 15 हजार का वेतन की प्रोत्साहन राशि दी जाएगी।

✅प्रगतिशील पशुपालक प्रोत्साहन योजना कब शुरू हुई

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ जी ने 24 जून 2023 को प्रगतिशील पशुपालक प्रोत्साहन योजना को जारी कर दिया है ।

 ✅यूपी में गाय पालने पर कितने रुपए मिलेंगे?

यूपी प्रगतिशील पशुपालक प्रोत्साहन योजना के तहत गाय पालने पर गौपालको को अधिकतम 15 हजार रुपए मिलेंगे।

Amar Kumar is a graduate of Journalism, Psychology, and English. Passionate about communication - with words spoken and unspoken, written and unwritten - he looks forward to learning and growing at every opportunity. Pursuing a Post-graduate Diploma in Translation Studies, he aims to do his part in saving the 'lost…

This is a new paragraph added to the author box.

Leave a Comment