राजस्थान इ-सखी योजना 2023: Rajasthan E-Sakhi ऑनलाइन आवेदन, पात्रता

 Rajasthan E-Sakhi प्रशिक्षण पंजीकरण @digitalsakhi.rajasthan.gov.in | राजस्थान ई-सखी योजना: online form , पात्रता , important documents और लाभ – राजस्थान सरकार द्वारा राज्य की महिलाओं को डिजिटल युग से जोड़ने के लिए राजस्थान ई-सखी योजना की शुरुआत की गई है। इस योजना के माध्यम से राजस्थान में 1.5 लाख महिलाओं को डिजिटल रूप से साक्षरता प्रशिक्षण प्रदान किया जाएगा और राज्य सरकार द्वारा प्रशिक्षण मुफ्त होगा। राजस्थान की इच्छुक महिलाएं ई-सखी मोबाइल ऐप के माध्यम से इस योजना के लिए आवेदन कर सकती हैं। इस लेख में हम राजस्थान ई-सखी से जुड़ी सभी महत्वपूर्ण जानकारी प्रदान करेंगे, जैसे – योजना के उद्देश्य, लाभ और विशेषताएं आदि। Rajasthan E-Sakhi 2023

Rajasthan E-Sakhi ,@ digitalsakhi.rajasthan.gov.in ,important documents ,online form ,2023 ,Rajasthan E-Sakhi online form 2023

Rajasthan E-Sakhi Yojana 2023

राजस्थान की मुख्यमंत्री श्रीमती वसुंधरा राजे जी ने राजस्थान इ-सखी योजना की शुरुआत की थी जिसका मुख्य उद्देश्य राज्य की महिलाओं को डिजिटल रूप से साक्षर बनाना था। इस योजना के माध्यम से राज्य में स्वयं सेवकों के नामांकन के बाद उन्हें डिजिटल प्लेटफॉर्म के बारे में साक्षरता प्रशिक्षण मुफ्त में दिया जाता है। प्रशिक्षण प्राप्त करने के बाद महिलाओं को “ई-सखी” का नाम दिया जाता है। फिर यह ई-सखी गांव और शहर की कम से कम 100 महिलाओं को डिजिटल सेवा का उपयोग करना सिखाती है। “राजस्थान ई-सखी योजना” का मुख्य लक्ष्य हर घर की कम से कम एक महिला को डिजिटल साक्षरता प्रदान करना है, क्योंकि एक महिला पूरे परिवार को शिक्षित कर सकती है और फिर डिजिटल राजस्थान का सपना साकार होगा।

राजस्थान ई-सखी योजना के बारे में जानकारी

योजना का नाम Rajasthan E-Sakhi
शुरू की गई मुख्यमंत्री श्रीमती वसुंधरा राजे जी के द्वारा
लाभार्थी राजस्थान की महिलाएं
उद्देश्य डिजिटल साक्षरता हेतु घर बैठे ही ट्रेनिंग प्रदान करना
ट्रेनिंग शुल्क निशुल्क
साल 2023
योजना का प्रकार राजस्थान सरकारी योजना
आवेदन प्रक्रिया ऑनलाइन
आधिकारिक वेबसाइट https://esakhi.rajasthan.gov.in/

राजस्थान ई-सखी योजना 2023 का उद्देश्य 

राजस्थान ई-सखी योजना का मुख्य उद्देश्य राज्य की महिलाओं को डिजिटल युग से जुड़ने के लिए शिक्षा प्रदान करना है। इस योजना के माध्यम से लगभग 1.5 लाख महिलाओं को डिजिटल ट्रेनिंग प्रदान की जाएगी, जिसके बाद वे अपने शहरों और गांवों के घर-घर जाकर अन्य महिलाओं को डिजिटल शिक्षा प्रदान करेंगी। राजस्थान ई-सखी योजना 2023 के माध्यम से ट्रेनिंग प्राप्त करने के लिए राजस्थान राज्य की 12वीं कक्षा पास महिलाएं ही पात्र हो सकती हैं।

ई-सखियों को राज्य सरकार द्वारा प्रदान की जाएगी आर्थिक सहायता

राजस्थान सरकार द्वारा “राजस्थान ई-सखी” के तहत ट्रेनिंग प्राप्त करने वाली महिलाओं को 2500 रुपये की आर्थिक सहायता प्रदान की जाएगी। इस योजना के अंतर्गत, आर्थिक सहायता की पहली किस्त 1000 रुपये की होगी, जो महिलाओं को ट्रेनिंग आरंभ होने पर दी जाएगी। उसके बाद शेष 1500 रुपये की राशि दूसरी किस्त में प्रदान की जाएगी, जब ट्रेनिंग पूरी हो जाएगी। इस योजना के माध्यम से मोबाइल में इंटरनेट कनेक्टिविटी को बनाए रखा जाएगा, ताकि राज्य की सभी ई-सखियां आर्थिक सहायता के धन का उपयोग करके अपने मोबाइल में इंटरनेट का रिचार्ज कर सकें।

प्रशिक्षण की अवधि एवं स्थान का विवरण

राज्य की महिलाओं को Rajasthan E-Sakhi Yojana के माध्यम से कितने दिनों और कहां पर ट्रेनिंग प्रदान की जाएगी, इससे सम्बंधित जानकारी इस प्रकार है:- 

  • इसके अंतर्गत प्रतिदिन 2 घंटे के हिसाब से 14 घंटों का प्रशिक्षण महिलाओं को प्रदान किया जाएगा, इस हिसाब से महिलाओं को 7 दिनों तक यह प्रशिक्षण प्रदान किया जाएगा। 
  • राजस्थान नॉलेज कॉरपोरेशन लिमिटेड के नजदीकी आईटी जीके या आईटी ज्ञान केंद्रों पर राजस्थान ई-सखी योजना 2023 के तहत महिलाओं को प्रशिक्षण प्रदान किया जाएगा। 
  • यह प्रशिक्षण प्राप्त करने के लिए किसी भी तरह का कोई शुल्क राज्य की महिलाओं को देने की आवश्यकता नहीं होती है, यह ट्रेनिंग बिल्कुल मुफ्त होती है।

राजस्थान ई-सखी योजना के तहत डिजिटल प्रशिक्षण हेतु पाठ्यक्रम

  • भामाशाह योजना
  • ईमित्र योजना
  • भामाशाह स्वास्थ्य बीमा योजना
  • सामाजिक सुरक्षा पेंशन योजना
  • ईपीडीएस योजना
  • राजस्थान संपर्क

Rajasthan E-Sakhi Training के विशेषताएं और लाभ

  • राजस्थान की 1.5 लाख स्वयं सेविकाओं को Rajasthan E-Sakhi Yojana 2023 के माध्यम से डिजिटल साक्षरता हेतु ट्रेनिंग प्रदान की जाएगी। 
  • राज्य की हितग्राही महिलाओं को यह ट्रेनिंग प्राप्त करने हेतु किसी भी तरह के शुल्क का भुगतान नहीं करना होगा। 
  • इस योजना के माध्यम से प्रशिक्षण प्राप्त करने वाली महिलाओं को इ सखी के नाम से पुकारा जाएगा और उन्हें सर्टिफिकेट और पुरस्कार भी सरकार द्वारा प्रदान किया जाएगा। 
  • राजस्थान के शहर एवं गांवों में घर-घर जाकर महिलाओं को इ-सखियां ट्रेनिंग प्राप्त करने के बाद डिजिटल शिक्षा प्रदान करेंगी।
  • राजस्थान राज्य की महिलाओं और राज्य दोनों को राजस्थान ई-सखी योजना का लाभ प्रदान किया जाएगा, महिलाएं डिजिटल रूप से साक्षर होकर इस योजना के माध्यम से राजस्थान राज्य डिजिटल बनेगा।  

राजस्थान ई-सखी योजना की पात्रता मानदंड

  • इस योजना का लाभ प्राप्त करने के इच्छुक नागरिको को राजस्थान राज्य का मूल निवासी होना अनिवार्य है। 
  • राज्य की 18 वर्ष से लेकर 35 वर्ष की महिलाओं के द्वारा इस योजना के तहत आवेदन किया जा सकता है। 
  • महिला के पास भामाशाह आईडी होनी अनिवार्य है। 
  • इसके अतिरिक्त राज्य की जिन महिलाओं के द्वारा आवेदन किया जाता है, वह महिलाएं कम से कम 12वीं कक्षा पास होनी चाहिए। 
  • जो महिलाएं सामाजिक कार्यक्रम में भागीदारी लेती है और जिनके पास खुद का स्मार्टफोन है वहीं महिलाएं इस योजना के तहत आवेदन कर सकती हैं। Rajasthan E-Sakhi important documents Rajasthan E-Sakhi important documents Rajasthan E-Sakhi important documents

Rajasthan E-Sakhi Yojana के लिए आवश्यक दस्तावेज

  • भामाशाह कार्ड
  • निवास प्रमाण पत्र
  • 12वीं कक्षा का प्रमाण पत्र
  • ईमेल आईडी
  • मोबाइल नंबर
  • पासपोर्ट साइज फोटो आदि 

राजस्थान ई-सखी योजना 2023 के तहत आवेदन करने की प्रक्रिया 

राजस्थान ई-सखी योजना के तहत नामांकन करने की इच्छुक महिला को एक परीक्षा में शामिल होना होता है, यह परीक्षा एक ओपन कॉनपेटीटिव परीक्षा होती है:- 

  • सबसे पहले आपको अपने मोबाइल में इ सखी मोबाइल एप को डाउनलोड करना है, इसके बाद आपको इस एप को ओपन कर लेना है। @ digitalsakhi.rajasthan.gov.in @ digitalsakhi.rajasthan.gov.in @ digitalsakhi.rajasthan.gov.in @ digitalsakhi.rajasthan.gov.in
  • इसके बाद आपके सामने एप का होमपेज खुल जाएगा, होमपेज पर आपको ई-सखी बनिए के विकल्प पर क्लिक कर देना है। 
  • अब आपके सामने एक नई विंडो खुलकर आ जाएगी जिस पर आपको अपनी राजस्थान साइन ऑन आईडेंटिटी की सहायता से लॉगिन करना है।
  • इस प्रकार आप Rajasthan E-Sakhi Yojana 2023 के अंतर्गत नामांकन/आवेदन कर सकते हैं। 
  • किसी महिला के पास यदि एसएसओ आईडी नहीं है तो वह साइन अप टैब पर क्लिक करके एसएसओ आईडी के लिए रजिस्ट्रेशन कर सकती है। 
  • इसके अतिरिक्त महिला के द्वारा भामाशाह आईडी या आधार कार्ड या फेसबुक आईडी या जीमेल आईडी की सहायता से भी रजिस्टर किया जा सकता है।  

Rajasthan E-Sakhi मोबाइल ऐप डाउनलोड करने की प्रक्रिया 

  • सबसे पहले आपको अपने मोबाइल फोन के गूगल प्ले स्टोर में जाना है, इसके बाद आपके सामने गूगल प्ले स्टोर का होम पेज खुल जाएगा। 
  • इसके बाद आपको गूगल प्ले स्टोर के सर्च बार में राजस्थान इ-सखी मोबाइल एप टाइप करके सर्च के विकल्प पर क्लिक कर देना है। 
  • अब आपके सामने एक सूची खुलकर आ जाएगी जिसमें से आपको सबसे ऊपर वाले ई सखी मोबाइल ऐप के विकल्प पर क्लिक कर देना है। Rajasthan E-Sakhi online form Rajasthan E-Sakhi online form Rajasthan E-Sakhi online form Rajasthan E-Sakhi online form
  • फिर आपको इंस्टॉल के विकल्प पर क्लिक कर देना है, इसके बाद आपकी डिवाइस में ई सखी मोबाइल ऐप डाउनलोड हो जाएगा। 
  • इस प्रक्रिया का पालन करके आप Rajasthan E-Sakhi Yojana 2023 के मोबाइल ऐप को डाउनलोड कर सकते है

FAQ’S Rajasthan E-Sakhi Yojana 2023

✅ई सखी योजना क्या है?

योजना से महिला सशक्तिकारण में मदद मिलेगी तथा प्रदेश की महिलाओ के ज्ञान में वृद्धि होगी। योजना अंतर्गत राजस्थान सरकार ने 1.5 लाख स्वयंसेवकों का नामांकन किया है। जो कि अपने गाँव और शहर की कम से कम 100 महिलाओ को डिजिटल सेवाओ का उपयोग करना सिखाएँगे (डिजिटल ट्रेनिंग देंगे)।

✅पंचायत सखी की सैलरी कितनी होती है?

पंचायत सखी की सैलरी कितनी होती है? ग्राम पंचायत सखी की सैलरी ₹6000 से ₹9000 प्रतिमाह वेतन मानदेय होता है।

✅स्वास्थ्य सखी का क्या काम होता है?

सखी स्वास्थ्य सुरक्षा योजना “युवा विकास सह समाज कल्याण फाउंडेशन” द्वारा संचालित एक स्वास्थ्य संबंधी कार्यक्रम है। जिसमें कि हमारे समाज की लड़कियों एवं महिलाओं को पंजीकृत करस्वास्थ संबंधित सुविधा मुहैया कराई जाएगी और उनके जीवन को बेहतर बनाने के लिए हर संभव प्रयास किया जाएगा

Amar Kumar is a graduate of Journalism, Psychology, and English. Passionate about communication - with words spoken and unspoken, written and unwritten - he looks forward to learning and growing at every opportunity. Pursuing a Post-graduate Diploma in Translation Studies, he aims to do his part in saving the 'lost…

This is a new paragraph added to the author box.

Leave a Comment